Movie prime

क्या गेंहू के भाव में तेजी फिर पकड सकती है रफ्तार | जाने पूरी जानकारी इस रिपोर्ट में

क्या गेंहू के भाव में तेजी फिर पकड सकती है रफ्तार | जाने पूरी जानकारी इस रिपोर्ट में

किसान साथियो गेहूं खरीदी के लक्ष्य को हासिल न कर पाने से गेहूं का भाव मजबूत रहने के बन सकते है आसार
केन्द्रीय कृषि मंत्रालय ने 1120.20 लाख टन के रिकॉर्ड उत्पादन का अनुमान लगाने से उत्साहित होकर, खाद्य मंत्रालय ने चालू रबी मार्केटिंग के लिए 373 लाख टन गेहूं की खरीद का यह महत्वाकांक्षी लक्ष्य निर्धारित किया है। लेकिन मौजूदा स्थिति को देखते हुए, गेहूं की कुल सरकारी खरीद इस निर्धारित लक्ष्य से कम से कम 100 लाख (1 करोड़) टन पीछे रहने की संभावना है। यह एक बहुत बड़ा अंतर है। WhatsApp पर भाव देखने के लिए हमारा ग्रुप जॉइन करे

कितना है गेंहू का स्टॉक और खपत
इस बात को ध्यान में रखना भी जरूरी है कि 1 अप्रैल को नए रबी मार्केटिंग सीजन की आधिकारिक शुरुआत हुई थी, तब भारतीय खाद्य निगम (एफसीआई) के पास लगभग 75-76 लाख टन गेहूं का स्टॉक था, जो न्यूनतम अनिवार्य बफर मात्रा 74.80 लाख टन के करीब था। इस बार, गेहूं की कुल सरकारी खरीद 27 लाख टन तक बढ़ने की संभावना है। 5800 रुपये में अपनी सरसों को बेचने के लिए लिंक पर क्लिक करे

इसमें से 184 लाख टन गेहूं का उपयोग प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना में होगा, जबकि अन्य उद्देश्यों में भी इसका उपयोग होगा। इसमें भारत ब्रांड आटा की बिक्री भी शामिल है। इसके अलावा, खुले बाजार बिक्री योजना (ओएमएसएस) की फिर से शुरू होने की संभावना है। कुल मिलाकर, गेहूं की आपूर्ति और उपलब्धता की स्थिति जटिल रह सकती है। बड़े-बड़े उत्पादकों के पास गेहूं का स्टॉक है, लेकिन वे उसे नीचे दाम पर बेचने के इच्छुक नहीं हैं। इसके परिणामस्वरूप, आने वाले दिनों में गेहूं के बाजार भाव में सुधार हो सकता है। फ्लोर मिलर्स और व्यापारियों-प्रोसेसर्स के पास गेहूं का सीमित स्टॉक है। बाकि व्यापार अपने विवेक से करे

👉 यहाँ देखें फसलों की तेजी मंदी रिपोर्ट

👉 यहाँ देखें आज के ताजा मंडी भाव

👉 बासमती के बाजार में क्या है हलचल यहाँ देखें

About the Author
मैं लवकेश कौशिक, भारतीय नौसेना से रिटायर्ड एक नौसैनिक, Mandi Market प्लेटफार्म का संस्थापक हूँ। मैं मूल रूप से हरियाणा के झज्जर जिले का निवासी हूँ। मंडी मार्केट( Mandibhavtoday.net) को मूल रूप से पाठकों  को ज्वलंत मुद्दों को ठीक से समझाने और मार्केट और इसके ट्रेंड की जानकारी देने के लिए बनाया गया है। पोर्टल पर दी गई जानकारी सार्वजनिक स्रोतों से प्राप्त की गई है।