Movie prime

क्या धान 1509 में और तेजी आ सकती है या नहीं | देखे इस रिपोर्ट में

क्या धान 1509 में और तेजी आ सकती है या नहीं | देखे इस रिपोर्ट में

किसान साथियो हरियाणा, पंजाब, उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश और राजस्थान की मंडी में बासमती धान की अन्य किस्मो की आवक लगातार बढ़ रही है। MEP की कंडीसन लगाने के बाद एक बार धान 1509 के भाव डाउन जरूर हुए थे । लेकिन सरकार के द्वारा बढ़ाए गए न्यूनतम निर्यात मूल्य (MEP) की धारणा में अब माल की खरीद फिर से आने लगी है। हम मानते हैं की MEP के चलते आज भी मंडियों में असमंजस का माहौल बना हुआ है। लेकिन फिर से खरीद निकलने के चलते पिछले दो दिन में धान और चावल की कीमतों में लगभग 150 से 200 रुपए प्रति क्विंटल तक तेजी देखी गई है। WhatsApp पर भाव देखने के लिए हमारा ग्रुप जॉइन करें

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि पिछले साल की तुलना में साठी बासमती किस्मो का धान इस बार हरियाणा, पंजाब, उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश और राजस्थान के सभी जिलों में ज्यादा लगाया गया है। लेकिन इस बार मौसम में अल नीनो का प्रभाव को देखते हुए सरकार को लग रहा है कि उत्तपादन बुआई के मुकाबले में कम रहेगा। लेकिन हरियाणा और पंजाब मेन ऐसा बहुत बड़ा एरिया है जो पूरी तरह से सिंचित है ।  इसलिए ये भी संभव है कि अल नीनो मौसम प्रणाली का प्रभाव बासमती धान पर बिलकुल भी न पड़े।

बढ़िया मिल रहा है उत्पादन
साथियो इस सीजन पिछले साल के तुलना में उत्पादन अधिक होने की उम्मीद जताई जा रही है। फिलहाल इस समय में पंजाब, हरियाणा, उत्तर प्रदेश,में धान की कटाई कंबाइन और मजदूर द्वारा का काम जोरो से चल रहा है। मंडी भाव टुडे ने मंडियो में जाकर किसानो से बात की तो पता चला है की 1509, 1847, और 1692 का उत्पादन अच्छा आ रहा है । एक एकड़ में किसान 25 से 30 क्विंटल तक उत्पादन ले रहे हैं जिसके हिसाब से किसान एक एकड़ धान से 80000 से 100000 रुपये तक का मुनाफा ले पा रहे हैं।

क्या धान 1509 की कीमत और बढ़ सकती है
साथियो पिछले दिनों नया 1509 सेला चावल जो कि 6500 प्रति क्विंटल बिक रहा था अब इसके भाव 6700 प्रति क्विंटल तक पहुँच चुके हैं। यूपी में भी नीचे वाले माल 6500 रुपए प्रति क्विंटल बिक रहा है । वहीं पंजाब में बढ़िया माल का भाव 6850 ट्रक लोड में बोला जाने लगा है । इसी तरह धान में भी 150 से 200 रुपए तक तेजी देखने को मिली और अमृतसर लाइन में हाथ से कटे धान 1509 का भाव 3600 से 3750 रुपए प्रति क्विंटल कीमत बोली गई है। उत्तर प्रदेश में 1509 भाव 3150 से 3400 बोला जाने लगा। जींद मंडी में धान 1509 हाथ भाव 3900 रुपए प्रति क्विंटल बोला गया। साथियो कुछ कहा नहीं जा सकता की 1509 के भाव में और तेजी आ सकती है या नहीं क्योकि पिछले साल के मुकाबले में पहले ही 500 से 600 रुपए अधिक मिल रहे है। अभी ये देखना भी बाकी है कि बाजार MEP की घटी हुई लिमिट को किस तरह से लेता है। फिलहाल तो सब पोजिटिवे लग रहा है लेकिन स्थिति कभी भी बदल सकती है ।

जानकारों का कहना है की और किस्मो की जैसे ही 1121, 1718 आदि ऊंची किस्मों की आवक बढ़ेगी वैसे ही नीची किस्मों के भाव कम हो जायेंगे। गौर करने वाली बात यह है कि इस सीजन धान उत्पादक क्षेत्र में फसल बढ़िया होने की खबर है क्योंकि हर साल धान की फसल पकते समय आंधी और बारिश के चलते ही फसल को नुकसान होता था। लेकिन अबकी बार लगभग सभी जगह फसल खड़ी हुई है और क्वालिटी भी अच्छी है। जिसकी वजह से प्रति क्विंटल उत्पादन भी बढ़ा है। पिछले 2 साल के मुकाबले में अबकी बार फसल भी जल्दी बाजार में आई है। दोबारा फसल जहां लगाई गई है वहां पर भी अब फसल में दाना बनने लगा है और फसल भी अच्छी बताई जा रही है इन सब परिस्थितियों को देखते हुए बासमती प्रजाति के धान में उत्पादन में वृद्धि होने की संभावना नजर आ रही है। नीची क़िस्मों में बड़ी तेजी फिलहाल मुश्किल नजर आ रही है । व्यापर अपने विवेक से करें

👉 यहाँ देखें फसलों की तेजी मंदी रिपोर्ट

👉 यहाँ देखें आज के ताजा मंडी भाव

👉 बासमती के बाजार में क्या है हलचल यहाँ देखें

About the Author
मैं लवकेश कौशिक, भारतीय नौसेना से रिटायर्ड एक नौसैनिक, Mandi Market प्लेटफार्म का संस्थापक हूँ। मैं मूल रूप से हरियाणा के झज्जर जिले का निवासी हूँ। मंडी मार्केट( Mandibhavtoday.net) को मूल रूप से पाठकों  को ज्वलंत मुद्दों को ठीक से समझाने और मार्केट और इसके ट्रेंड की जानकारी देने के लिए बनाया गया है। पोर्टल पर दी गई जानकारी सार्वजनिक स्रोतों से प्राप्त की गई है।