Movie prime

मक्का के किसानो के लिए भाव को लेकर बड़ी अपडेट | जाने पूरी जानकारी इस रिपोर्ट में

मक्का के किसानो के लिए भाव को लेकर बड़ी अपडेट | जाने पूरी जानकारी इस रिपोर्ट में

किसान साथियो खरीफ सीजन के बाद बिहार में मक्का की फसल अगले महीने में आने वाली है। जानकारों के मुताबिक मक्का की फसल बढ़िया होने से मध्य प्रदेश और राजस्थान के मक्का की बिक्री कमजोर पड़ गई है और जिन्होंने भी माल को स्टॉक किया था वो अब जल्दी से माल को निकल रहे हैं जिससे बाजार में 40/50 रुपए तक की गिरावट देखने को मिल रहे हैं तथा नई फसल आने तक और मंदे के आसार बन गए हैं। मक्का की फसल खरीफ एवं रबी दोनों ही सीजन में आती है। खरीफ सीजन में मक्का एमपी यूपी महाराष्ट्र आंध्र प्रदेश कर्नाटक राजस्थान आदि सभी राज्यों से आती है तथा बीते खरीफ सीजन में सरकारी अनुमान के मुताबिक मक्का का उत्पादन 227.20 लाख मीट्रिक टन हुआ है, जिसमें पॉपकॉर्न मंडी भी निहित है। WhatsApp पर भाव देखने के लिए हमारा ग्रुप जॉइन करें

साथियो इसके अलावा रबी सीजन में मक्का बिहार एवं बाद में यूपी की आती है। बिहार के खगड़िया बेगूसराय पूर्णिया दरभंगा गुलाब बाग मानसी जमालपुर गूगुड़ी सहित पूर्वोत्तर जिले में मक्की की खड़ी फसल बहुत बढ़िया बताई जा रही है तथा सरकार द्वारा रबी सीजन की सभी राज्यों को मिलाकर 97.50 लाख मैट्रिक टन उत्पादन होने का अनुमान लगाया गया है, जबकि व्यापारी बिहार में अकेले ही मक्की गर्मी वाली 70 लाख मीट्रिक टन होने का अनुमान लगा रहे हैं। यही कारण है कि एमपी के छिंदवाड़ा लिंगा सिवनी बैतूल गंज मुलताई के साथ-साथ नागपुर लाइन में भी स्टॉकिस्टों की बिकवाली आ गई है तथा स्टार्च मिलें माल लेने से पीछे हट गई है। उधर डिस्टलरी में भी मांग घट गई है, एथेनॉल बनाने वाली कंपनियां पहले ही माल खरीद चुकी थी, जो प्रोसेसिंग कर रही हैं। देखे आज एमपी यूपी के अनाज के लाइव मंडी रेट 22 मार्च 2024

इन सारी परिस्थितियों को देखते हुए वर्तमान भाव की मकई में बिकवाली करते रहना चाहिए। इस समय एमपी राजस्थान की बढ़िया मक्की 2575/2600 रुपए रुपए प्रति कुंतल हरियाणा पंजाब पहुंच में बोल रहे हैं, जबकि ग्राहकी का सन्नाटा बना हुआ है। हम मानते हैं कि बिहार में इस बार मौसम का तापमान कम रहने से 15 अप्रैल के बाद ही मक्की मंडियों में आएगी, क्योंकि सामान्य से 15 दिन इस बार फसल लेट से पकने वाली है, जिससे फिलहाल बहुत ज्यादा अभी घटने की गुंजाइश नहीं है, लेकिन अपना माल बेचते रहना चाहिए। बिहार की मक्की आने पर तेजी से बाजार टूटने की संभावना है, तथा बिहार में मक्की नीचे में 1900 रुपए बन सकती है, जो अभी 2320 रुपए चल रही है। ऊपर में 15-20 दिन पहले 2500 रुपए बोलने लगे थे। बाकी व्यापार अपने विवेक से करे

👉 यहाँ देखें फसलों की तेजी मंदी रिपोर्ट

👉 यहाँ देखें आज के ताजा मंडी भाव

👉 बासमती के बाजार में क्या है हलचल यहाँ देखें

About the Author
मैं लवकेश कौशिक, भारतीय नौसेना से रिटायर्ड एक नौसैनिक, Mandi Market प्लेटफार्म का संस्थापक हूँ। मैं मूल रूप से हरियाणा के झज्जर जिले का निवासी हूँ। मंडी मार्केट( Mandibhavtoday.net) को मूल रूप से पाठकों  को ज्वलंत मुद्दों को ठीक से समझाने और मार्केट और इसके ट्रेंड की जानकारी देने के लिए बनाया गया है। पोर्टल पर दी गई जानकारी सार्वजनिक स्रोतों से प्राप्त की गई है।