Movie prime

जाने हरियाणा में किस तारीख से शुरू होगी गेहूं और सरसो की सरकारी खरीद | जाने पूरी जानकारी इस रिपोर्ट में

जाने हरियाणा में किस तारीख से शुरू होगी गेहूं और सरसो की सरकारी खरीद | जाने पूरी जानकारी इस रिपोर्ट में

किसान साथियो हरियाणा में हिसार और सिरसा जिलों की मंडियों में सरसों की आवक शुरू हो गई है, लेकिन राज्य में अभी तक सरकारी खरीद शुरू नहीं हुई है। ऐसे में किसानों का सरकार के प्रति गुस्सा बढ़ता जा रहा है. क्योंकि निजी खरीदार किसानों की मजबूरी का फायदा उठाते हैं. वे न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) से कम कीमत पर किसानों से सरसों खरीद रहे हैं। इसी बीच किसानों के लिए बड़ी खबर सामने आई है. सरकार ने रबी सीजन के लिए सरसों और गेहूं की सरकारी खरीद के लिए राज्य भर में केंद्र स्थापित किए हैं। प्रदेश में गेहूं के लिए 414 सरकारी खरीद केंद्र और सरसों के लिए 104 केंद्र स्थापित किए गए हैं। जिले में 13 सरसों खरीद केंद्र तथा 26 गेहूं खरीद केंद्र स्थापित किए गए हैं। इन्हीं केंद्रों पर गेहूं और सरसों की सरकारी खरीद हो सकेगी। WhatsApp पर भाव देखने के लिए हमारा ग्रुप जॉइन करें

कब से शुरू हो सकती है गेहूं और सरसों की सरकारी खरीद
किसान साथियो सरसों की खरीद 28 मार्च और गेहूं की खरीद 1 अप्रैल से शुरू होगी. सरसों खरीद एजेंसी भी नियुक्त कर दी गई है। नेफेड के लिए केवल हैफेड ही सरसों खरीदेगा। सरकार ने अभी यह तय नहीं किया है कि किस एजेंसी को कब तक अनाज खरीदना है. न ही सरसों व गेहूं खरीद के लिए कोई मानक तय किए गए हैं। इसके बाद ही सरसों की खरीद शुरू होगी। ऐसे में असमंजस की स्थिति बनी हुई है. हाल के दिनों में अनाज बाजार में सरसों की भी आवक शुरू हो गई है, जिसमें नमी की मात्रा अधिक है। सरसों की सरकारी खरीद के लिए अभी समय है। देखे आज के अनाज के लाइव मंडी रेट 18 मार्च 2024

सरकार इस बार सरसों के एमएसपी पर 200 रुपये की बढ़ोतरी की है
साथियो ऐसे में सरसों को निजी तौर पर बाजार में बेचा जाता है और कमीशन एजेंट यानी की आढ़ती एमएसपी (सरसों और गेहूं की एमएसपी) से कम कीमत पर किसानों से इसे खरीदते हैं। लेकिन किसान कम दाम पर सरसों बेचने को मजबूर हैं. हालांकि, इस बार सरकार ने सरसों की औसत कीमत में 200 रुपये की बढ़ोतरी की है. इससे किसानों को फायदा होगा.

किन्ह मंडियों में बनाए गए है गेहूं के लिए केंद्र
पाबड़ा, पेटवाड़, सरसौद, श्यामसुख, सिसाय, थुराना, बंदाहेड़ी, बरवाला, बास, आदमपुर, अग्रोहा, कोथकलां, लोहारी राघो, हांसी, हसनगढ़, हिसार, खांडाखेड़ी, नारनौंद, उकलाना, कैमरी, राजली, मतलौडा, बालसमंद, दौलतपुर, घिराय, खेड़ी जालब आदि में केंद्र बनाए गए हैं, जहां गेहूं की सरकरी खरीद होगी.

सरसो के सरकारी खरीद केंद्र का निर्माण किया है बास, हांसी, हिसार, लौहारीराघो, उकलाना, आदमपुर, बरवाला, अग्रोहा, घिराय, सिसाय, बालसमंद, खेड़ी लोहचब आदि मंडियों में खरीद केंद्र बनाए गए हैं.

👉 यहाँ देखें फसलों की तेजी मंदी रिपोर्ट

👉 यहाँ देखें आज के ताजा मंडी भाव

👉 बासमती के बाजार में क्या है हलचल यहाँ देखें

About the Author
मैं लवकेश कौशिक, भारतीय नौसेना से रिटायर्ड एक नौसैनिक, Mandi Market प्लेटफार्म का संस्थापक हूँ। मैं मूल रूप से हरियाणा के झज्जर जिले का निवासी हूँ। मंडी मार्केट( Mandibhavtoday.net) को मूल रूप से पाठकों  को ज्वलंत मुद्दों को ठीक से समझाने और मार्केट और इसके ट्रेंड की जानकारी देने के लिए बनाया गया है। पोर्टल पर दी गई जानकारी सार्वजनिक स्रोतों से प्राप्त की गई है।