Movie prime

अगर धान बेचने की सोच रहे हैं तो इस रिपोर्ट को पढ़े बिना ना बेचें | Basmati Teji Mandi Report

अगर धान बेचने की सोच रहे हैं तो इस रिपोर्ट को पढ़े बिना ना बेचें | Basmati Teji Mandi Report

किसान साथियो कल की रिपोर्ट में हमने नम्र निवेदन किया था कि धान को बेचने के बारे में एक बार विचार जरूर कर लें। हमें पूरी उम्मीद है कि आपने अभी तक कुछ ना कुछ माल जरूर निकाल दिया होगा। दरअसल धान के बाजार में अब अनिश्चितता बढ़ने लगी है। आढ़तियों से लेकर किसानों के मन में संदेह पैदा होने लगा है। धान के बाजार ठहरते दिखाई दे रहे हैं। अब यहां से आगे और तेजी बनेगी या बाजार ठहरा रहेगा या फिर बाजार नीचे की तरफ फिसलेंगे यह एक बड़ा सवाल है और इसका जवाब ढूंढना आसान नहीं है। अंदाजे ग़लत साबित हो सकते हैं बड़ा नुकसान हो सकता है इसलिए किसी भी तरह का अंदाजा लगाने से पहले कड़ी सावधानी बरतनी जरूरी है। मंडी भाव टुडे ने अभी तक इस काम को बड़ी जिम्मेदारी से निभाया है और आगे भी निभाने की कोशिश करेंगे। आज की रिपोर्ट उन किसान साथियो के लिए है जो धान में और रिस्क लेना चाहते हैं और धान को होल्ड करना चाहते हैं। अगर आप भी ऐसा चाहते हैं तो आपको यह रिपोर्ट अंत तक पढ़नी चाहिए। WhatsApp पर भाव देखने के लिए हमारा ग्रुप जॉइन करें

ताजा मार्केट अपडेट
किसान साथियों सबसे पहले ताजा बाजार के माहौल को जान लेते हैं। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि शुक्रवार को धान के  बाजार में मिला-जुला रुख देखने को मिला है। कई ऐसी मंडियां रही जहां धान के भाव में तेजी दर्ज की गई और कई ऐसी मंडियां भी रही जहां पर धान के भाव में मंदी दर्ज की गई। बाजार में आयी इस मंदी और तेजी की अपने-अपने कारण रहे। मंडी भाव टुडे पर हमने पहले बताया था कि धान के बाजार में अब कंसोलिडेशन का फेज दिखाई देगा। जिन मंडियों में बहुत ज्यादा तेजी आ गई थी वह अब थोड़ी पीछे हटती नजर आएंगी और जो मंडियां बहुत नरम चल रही हैं वहां पर धान में तेजी बनेगी। बाजार में ठीक ऐसा ही माहौल बनता दिखाई दिया है। पंजाब की मंडियां जो की सामान्य भाव से काफी ऊपर चली गई थी वहां पर अब भाव नर्म हो रहे हैं और हरियाणा की मंडियां जो बहुत नीचे चल रही थी वहां पर अब तेजी दिखाने लगी है। कुल मिलाकर पंजाब और हरियाणा की मंडियां अब संतुलन में आ चुकी हैं। इसलिए भाव में अब एक ठहराव दिखाई दे रहा है।

क्या मिल रहे हैं टोप भाव
किसान साथियों अगर टॉप भाव की बात करें तो पंजाब की मंडियों में 1121 धान में टॉप भाव 5046 जो कि तरनतारन मंडी में लगा और फिर 5025 जो कि अमृतसर मंडी में लगा है। हरियाणा में 1121 का टॉप रेट गंनौर मंडी मंडी में 5001 रुपये तक लगा है। 1121 में आम भाव 4850 से 4950 तक लग रहे हैं। बात 1718 की करें टॉप भाव 4995 तक के रहे जो कि पंजाब की तरनतारन मंडी में लगे। इसी तरह से 1401 में टॉप रेट 4950 तक के चल रहे हैं जो कि आज सिरसा मंडी में लग चुके हैं। PB1 में टॉप रेंज 4700, 1885 में टॉप भाव 4900, 1886 में 4700, 1847 में 4200, 1509 में 4150 के टॉप रेट बोले जा रहे हैं। बासमती 30 में गिरावट जारी है टॉप भाव 6250 से 6350 के बीच बने हुए हैं। ये भी पढ़े :- क्या आज ही है धान बेचने का सबसे सही समय, जानें बासमती धान की तेजी मंदी रिपोर्ट

चावल के भाव में कमजोरी
शुक्रवार को ताजा अपडेट के अनुसार 1718 धान में कमजोरी बनी है। 1718 सेला के 7800-7900 के व्यापार होने की सूचना मिली है। जबकि 1509 सेला में 7200 के सौदे हुए हैं। 1401 स्टीम चावल के 8900 से 9100 के सौदे बनने की रिपोर्ट प्राप्त हुई है। इसके अलावा अन्य किस्मों के भाव समान चल रहे हैं। बाजार में ग्राहकी थोड़ी सी कमजोर हुई है। जिसके चलते आज बाजार में स्थिरता से लेकर मामूली कमजोरी दिख सकती है।

बासमती धान रोके या अभी बेचे
किसान साथियों अब समय आ गया है की सबसे जरूरी सवाल का जवाब ढूंढा जाए कि धान को इस समय रोकने में फायदा है या बेचने में। साथियों हमने धान और चावल के टॉप भाव की जानकारी आपको दे दी है। धान और चावल के इन भावों को देखते हुए बाजार में संतुलन दिखाई दे रहा है। अब आगे तेजी की दिशा बनने के लिए जरूरी है कि बाजार को नए निर्यात ऑर्डर प्राप्त हो। नए ऑर्डर के अभाव में बाजार ठहरा रह सकता है। लेकिन विडंबना यह है कि कोई नहीं जानता कि नया निर्यात ऑर्डर कब और किस समय मिल जाए। इसलिए बाजार में और तेजी बनाना थोड़ा अनिश्चित लग रहा है। अब बाज़ार में तेजी बनने का केवल एक ही कारण दिखाई देता है वो है धान की आवक का घटना। चूंकि धान की आवक आने वाले समय में बिल्कुल समाप्त हो जाएगी इसलिए जिन मिलर्स का खरीद कोटा पूरा नहीं हुआ है वो खरीद के लिए आगे आ सकते हैं। दूसरी तरफ अगर नए ऑर्डर की कोई खबर भी निकलती है तो धान की खरीद एकाएक बढ़ जाएगी और भाव तेज हो सकते हैं। मंदी का जहां तक सवाल है बाजार 100-200 से ज्यादा टूटता दिखाई नहीं दे रहा। मंडी भाव टुडे का मानना है कि 1121 और 1718 में अभी अच्छे भाव है और माल को निकालते रहना चाहिए। 1401 में भी 5000 के आसपास में सौदे किए जा सकते हैं। 1847 और 1509 में 4200 के उपर सौदा सही लग रहा है। MP के किसानों को अगर PB1 में 4500 के उपर भाव मिल रहे हैं तो सौदा करने के बारे में सोच सकते हैं। अगर आप भारी रिस्क लेना चाहते हैं तो मकर संक्रांति तक इंतजार कर सकते हैं। साथियो व्यापार आपको अपने विवेक से ही करना है।

👉 यहाँ देखें फसलों की तेजी मंदी रिपोर्ट

👉 यहाँ देखें आज के ताजा मंडी भाव

👉 बासमती के बाजार में क्या है हलचल यहाँ देखें

About the Author
मैं लवकेश कौशिक, भारतीय नौसेना से रिटायर्ड एक नौसैनिक, Mandi Market प्लेटफार्म का संस्थापक हूँ। मैं मूल रूप से हरियाणा के झज्जर जिले का निवासी हूँ। मंडी मार्केट( Mandibhavtoday.net) को मूल रूप से पाठकों  को ज्वलंत मुद्दों को ठीक से समझाने और मार्केट और इसके ट्रेंड की जानकारी देने के लिए बनाया गया है। पोर्टल पर दी गई जानकारी सार्वजनिक स्रोतों से प्राप्त की गई है।